‘दैत्याकार मछली’ गलती से जाल में फंसी, वजन 328 kg किस्मत ने 3 दोस्तों को बनाया लखपति…!

0
630

समुद्र में कई ऐसे जीव हैं

जिनकी खोज नहीं की गई है,लेकिन जब वो जीव अचानक से इंसानों के सामने आते है तो पानी में छिपे राज का खुलासा होता है.समुद्री जीवन काफी जटिल है,यहां अजीबोगरीब जीवों की भरमार है.सोशल मीडिया पर इन दिनों वायरल हो रही उस फोटो को देख लोग हैरान हो गए जब एक विशालकाय मछली को तीन दोस्तों के एक ग्रुप ने गलती से पकड़ लिया.हैरानी की बात तो ये है कि इस ‘दैत्याकार’ मछली ने उन दोस्तों को लखपति बना दिया.

दरअसल, ब्रिटेन के रहने

वाले तीन दोस्तों (काइल कविला, गारेथ वलारिणो और शॉन देसुइसा) ने छुट्टी वाले दिन चिल करने के लिए मछली पकड़ने का प्लान बनाया, लेकिन उन्हें क्या पता था कि उनकी ये मस्ती उन्हें लखपति बना देगी। तीनों दोस्त पिछले कई सालों से फिशिंग कर रहे हैं लेकिन उस दिन उनकी जाल में जो मछली फंसी उसके बारे में उन्होंने कभी नहीं सुना था.इन दोस्तों के जाल में गलती से ‘ब्लूफिन टूना मछली’ आ फंसी.

328 किलो वजनी ‘ब्लूफिन

टूना मछली’ इतनी बड़ी थी कि उसे एक आदमी द्वारा संभाल पाना नामुमकिन है.यह साइज में इतनी बड़ी थी कि फिशिंग कर रहे लोगों के नाव में भी नहीं समा सकी.जब मछली जाल में फंसी तो उसे सींचते हुए एक दोस्त पानी में गिर गया, हालांकि काफी मशक्कत के बाद मछली को किनारे पर लाया जा सका.उनके पास 15 फीट की नाव थी फिर भी वो मछली उस पर नहीं समा सकी.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ब्रिटेन के सबसे मोटे आदमी जैसन होलटोन का वजन 317 किलो है, लेकिन काइल कविला, गारेथ वलारिणो और शॉन देसुइसा द्वारा पकड़ी गई इस मछली का वजह उससे भी कहीं ज्यादा है.काफी भारी और लंबी होने की वजह से उसे उसे नाव पर रख पाना नामुमकिन था, ऐसे में तीनों दोस्तों ने उसे जाल सहित खीचकर किनारे पर लाने का फैसला किया.

इस काम में काइल कविला

,गारेथ वलारिणो और शॉन देसुइसा की बैंड बज गई, हालांकि वह मछली को किनारे लाने में कामयाब रहे.इसके बाद उन्होंने मछली को 3 हिस्सो में काटा.मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मछली का कुछ हिस्सा उन्होंने बाजार में बेचा और बाकि अपने दोस्तों और परिवार के साथ खाने के लिए ले गए.दिलचस्प बात ये है कि मछली का मीट बाजार में एक-दो नहीं बल्कि 5 लाख 16 हजार में बिका.

कीमत सुनकर आपको झटका जरूर लगा होगा लेकिन सबसे ज्यादा शॉकिंग वाला बात ये है कि अगर तीनों दोस्त इस मछली के मीट को जापान के मार्केट में बेचा होता तो कीमत 10 से 15 गुना ज्यादा मिलती.तीनों दोस्तों ने बताया कि मछली जैसे ही जाल में फंसी, उन्हें पता चल गया कि यह कोई बड़ी फिश है। उसी खींच पाना तीनों के लिए मुश्किल हो रहा था, वो उनके नाव में भी नहीं समा पा रही थी.

अगर आप सोच रहे हैं कि ब्रिटेन के इन दोस्तों के हाथ लगी मछली ही दुनिया की सबसे कीमती फिश है तो आप गलत सोच रहे हैं.सबसे कीमती मछली पकड़ने का रिकॉर्ड जापान के टायकून कियोशी किमुरा के नाम के नाम है.उन्होंने साल 2019 में 278 किलो की ब्लूफिन टूनाको को अपने जाल में फंसाया था.

इस मछली को बाजार में 25 करोड़ 28 लाख रुपए में बेचा गया था.सबसे वजनी मछली पकड़ने का रिकॉर्ड मछुआरे केन फ्रासर के नाम दर्ज है.उन्होंने साल 1979 में 678 किलो की मछली को अपने जाल में पकड़ा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here