ना कोई ताम-झाम, ना दहेज, पंजाब में मात्र 2100 रुपए में हुई शादी सबके लिए बन गई मिसाल…!

0
20

आप अक्सर देखते हैं कि

शादियों में लाखों रुपए खर्च हो जाते हैं। जिसका कारण होता है शादी के लिए खरीदे गए गिफ्ट्स, कपड़े, गहने आदि। लेकिन सोचिए कि अगर ये सब ताम-झाम ना हो तो शादी कितने सस्ते में हो जाएगी। हालांकि, हम लोगों ने कई बार बेहद सादगी वाली शादियां भी देखी होगी। लेकिन जिस शादी की अब हम बात बताने जा रहे हैं उसमे इतना कम खर्च हुआ है कि आपको यकीन करना मुश्किल हो जाएगा।

सादगी से हुआ विवाह

पंजाब में हुई ये शादी आपको एक सिंपल सोबर शादी करने का जज्बा दे सकती है। इस विवाह में ना दूल्हा सज कर आया था और ना ही दूल्हन ने ज़्यादा साज-श्रृगांर किया था। सादे कपड़ों में दूल्हा-दुल्हन ने एक दूसरे का अपनाया और विवाह संपन्न हुआ। ना दूल्हे की तरफ से ज़्यादा लोगों को शामिल किया गया और ना ही दुल्हन की तरफ से ज़्यादा रिश्तेदारों को बुलाया गया था।

बता दें कि ये शादी पंजाब के नवांशहर में हुई है। अपनी सादगी की वजह से इस शादी की हर जगह चर्चा हो रही है। गांव भंडियार के जतिंद्र दास पुत्र जसविंदर दास का विवाह गांव मल्लां वेदियां, जिला नवांशहर की रीना पुत्री धर्मपाल दास से तय हुआ। दोनों परिवारों की सहमति से शादी में दिखावा न करकर सिर्फ रस्में कर विवाह सम्पन्न करने का फैसला लिया गया।

2100 रुपए में हुई शादी

इस विवाह समारोह में मात्र 2100 रुपए का खर्चा आया। न ही गिफ्ट्स का लेन देन हुआ और ना ही दहेज लिया गया। चूकि शादी को बेहद सिंपल रखा गया था इसीलिए इसकी रस्में भी बहुत जल्दी पूरी हो गई। सिर्फ 17 मिनट में ये विवाह पूरा हुआ। मंत्रोच्चार के बाद दोनों पति-पत्नी परिणय सूत्र में बंध गए। शादी में कोरोना का पूरे तरीके से ध्यान रखा गया और दूल्हे की तरफ से सिर्फ 11 लोग शामिल हुए। ये शादी जिला कोऑर्डिनेटर अजमेर दास की देख-रेख में हुई।

पूरे गली-मोहल्ले में शादी सुर्खियों में बनी रही थी। वाकई ये शादी हर किसी को प्रेरणा देती है कि इस तरह सादगी से भी विवाह समारोह हो सकता है। शादी में सबसे ज़्यादा ज़रूरी है दो परिवारों को मेल होना और पति-पत्नी का एक दूसरे को दिल से अपनाना।

ऐसी ही दिलचस्प कहानियां जानने के लिए नमन भारत के साथ जुड़े रहें। इस दिलचस्प खबर को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें। इसके अलावा आप हमें सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here